Notification issued for greater facilitation of citizens in the issue of International Driving Permit (IDP) across the country

source: Ministry of Road Transport & Highways/Posted On: 29 AUG 2022 12:33PM by PIB Delhi

The Ministry of Road Transport and Highways has issued a notification on 26 August 2022 for greater facilitation of citizens in the issue of International Driving Permit (IDP) across the country.

India, being a signatory to Convention on International Road Traffic of 1949 (Geneva Convention), is required to issue IDP as provided under this Convention, for the acceptance of the same on reciprocal basis with other countries.

Currently, the format, size, pattern, colour etc. of the IDP being issued was differing across States in India. Due to this, many citizens were facing difficulties with their respective IDP in foreign countries.

Now, through this amendment, the format, size, colour etc. for IDP has been standardized for issuance across India, and in adherence to the Geneva Convention. Provision for QR code to link the IDP with the Driving License has also been made. A comparison of vehicle categories across various Conventions and Central Motor Vehicle Rules, 1989 has also been added for facilitation of regulatory authorities. Helpline numbers and email have also been provided.

Click here to see the Gazette notification

*********

देश में अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट (आईडीपी) जारी करने के लिए नागरिकों को अधिक सुविधा प्रदान करने हेतु अधिसूचना जारी की गई

Posted On: 29 AUG 2022 12:33PM by PIB Delhi

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने देश में अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट (आईडीपी) जारी करने के लिए नागरिकों को अधिक सुविधा प्रदान करने हेतु 26 अगस्त 2022 को एक अधिसूचना जारी की है।

भारत 1949 के अंतर्राष्ट्रीय सड़क यातायात कन्वेंशन (जिनेवा कन्वेंशन) पर हस्ताक्षर करने वाला देश है। इसलिए इसे अन्य देशों के साथ पारस्परिक आधार पर इसे स्वीकार करने के लिए, इस कन्वेंशन की शर्त के अनुसार आईडीपी जारी करना आवश्यक है।

वर्तमान में देश के विभिन्‍न राज्‍यों में जारी किए जा रहे आईडीपी का प्रारूप, आकार, पैटर्न और रंग अलग-अलग था। इस कारण देश के अनेक नागरिकों को अन्‍य देशों में अपने-अपने आईडीपी के कारण कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था।

अब इस संशोधन के तहत आईडीपी के प्रारूप, आकार, रंग आदि को पूरे भारत में जारी करने और जिनेवा कन्वेंशन के अनुपालन में मानकीकृत किया गया है। आईडीपी को ड्राइविंग लाइसेंस से जोड़ने के लिए क्यूआर कोड का भी प्रावधान किया गया है। नियामक प्राधिकरणों की सुविधा के लिए विभिन्न कन्‍वेंशनों और केंद्रीय मोटर वाहन नियमावली, 1989 में वाहन श्रेणियों की तुलना को भी शामिल किया गया है। हेल्पलाइन नंबर और ईमेल भी उपलब्ध कराए गए हैं।

गजट अधिसूचना देखने के लिए यहां क्लिक करें

*.*.*.

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s